HootSoot official

ये है हाउसवाइफ्स के पसंदीदा धारावाहिक, जिसे देख सिरदर्द की गोली न खाने लगे आप

ऐसा लगता है कि इन सीरियलों के बीच प्रतियोगिता रहती है कि किसकी कहानी सबसे ज्यादा इल्लॉजिकल होगी

110

Simar

हाउस वाइफ अपनी डेली लाइफ में कितनी भी बिजी हो जाए लेकिन टीवी देखने का समय निकाल ही लेती हैं. इतना ही नहीं वो अपने फेवरिट धारावाहिक को फॉलो करने से भी पीछे नहीं हटती. टेलीकास्ट का समय निकल गया तो क्या, उन्हें रिपिटेड टेलीकास्ट का समय रटा हुआ होता है. वैसे तो हर बार छोटे पर्दे पर बोर करने वाले सीरियल्स की कमी नहीं होती. हालांकि कुछ ऐसे भी जरूर होते हैं जिन्हें देखा जा सकता है. टीआरपी ऊपर-नीचे होने के बावजूद भी ये सीरियल बोर करना नहीं छोड़ते. हमारे हिसाब से तो दिन में आने वाले सभी सीरियल की टीआरपी हमेशा हाई रहती होगी क्योंकि मम्मी, आंटी उसी समय तो फ्री होकर टीवी के सामने होती हैं. इन सीरियल को देखने के बाद इस पर घंटों बात करने का टैलेंट भी सिर्फ हाउसवाइफ के पास ही है.

बॉलीवुड फिल्म्स के साथ टीवी के ऐसे कई धारावाहिक है जिनको भी फ्लॉप लिस्ट में डालना चाहिए क्योंकि मेकर्स एंटरटेनमेंट के नाम पर कुछ भी परोस देते है. कुछ सीरियल्स की कहानी शुरुआत में तो हिट लगती है फिर बेवजह उसको खींचा जाता है. और तभी से मम्मी का फेवरिट सीरियल सरदर्द बन जाता है. आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसे ही सीरियल्स के बारे में जिसको देख आप खुद ये बोलेंगे…मैं रोऊ या हंसू करू मैं क्या करू!

स्टारप्लस पर प्रसारित होता सीरियल इश्कबाज़  दोबारा से आ गया है. कैरैक्टर वही कहानी नई लेकर. यार जब पहले वाला नहीं झेला गया दर्शकों से तो ये नई कहानी क्या नया गुल खिला देगी. खैर पहले की तरह इस सीरियल की शुरुआत भी बड़े मजेदार हुई. बड़ा ही अमीर-शमीर घराना दिखाया गया. हर दिन घर में पार्टी का माहौल. बिज़नेस तो हजार करोड़ का है लेकिन कभी कोई ऑफिस जाते नहीं दिखा. वहीँ दूसरी ओर सीरियल की मेन एक्ट्रेस बहुत ही गरीब घर की बनी है. घर में खाने को नहीं हैं, छत टपक रही है लेकिन उनके पास लेटेस्ट डिज़ाइनर ड्रेस और ज्वेलरी का कलेक्शन भरमार है. सड़क पर बक्सा लिए डिज़ाइनर ड्रेस और ज्वेलरी पहन भटक रहीं हैं. अरे! उसको ही बेचकर महीनेभर का राशन आ जाए. इस सीरियल में किडनैपिंग तो छोटी सी बात है घर में 80 साल की दादी भी किडनैपिंग कर लें.

Ishqbaaz
इश्कबाज़ का एक सीन

अब बात आती है सीरियल ये हैं मोहोब्बतें की – इस सीरियल का कहना ही क्या. सीरियल की एक्ट्रेस को जैसे सभी प्रॉब्लम में पड़ना ही हैं फिर वो उसकी हो या नहीं. उम्र का अंदाज़ा नहीं लगा सकते आप इसमें. दिल्ली जैसे शहर में विलेन बच्चे को पुलिस के सामने लेकर भाग जाती है और पुलिस से पहले उसे बच्चे की मां पकड़ लेती है. इतना ही नहीं विलेन बच्चे को पहाड़ी से लेकर कूद जाती है और कुछ साल बाद वो ऑस्ट्रेलिया में बिज़नेस करते हुए मिलती है. अभी ख़तम नहीं हुआ इस सीरियल की एक्ट्रेस कभी पहाड़ों में गुफा के अंदर फस जाती है तो कभी भूकंप में बिल्डिंग के नीचे दब के भी चार साल बाद वापिस आ जाती है. मैडम मगरमच्छ से भी लड़ चुकी हैं. ऐसा तो फिल्म में देखा था की चार साल बाद हीरो वापिस आ गया और हैप्पी एंडिंग हो गयी. पर हर चार साल में मरना फिर वापिस आना नहीं देखा था.

कुछ समय पहले टीवी पर प्रसारित होता सीरियल ससुराल सिमर का ने तो जैसे बिन सिर पैर की बातें दिखाने में महारत हासिल कर ली थी. सबसे पहले तो ये बात आती है की डांस करने के लिए कौन बार-बार घर से भाग जाता है वो भी शादी के दिन. फिर शादी के बाद सीरियल की एक्ट्रेस डायन तो कभी इच्छाधारी नागिन बन जाती है. चुड़ैल, पुर्नजन्म, काला जादू और न जाने क्या क्या इस सीरियल में सब देखने को मिला. आजकल इस सीरियल की मेन एक्ट्रेस बिगबॉस में दिखाई दे रही हैं.

सीरियल मेरी आशिकी तुमसे ही कुछ महीनों पहले तक तो फिर भी देखने लायक था. लेकिन जैसे जैसे इनके यहां शादियों का सिलसिला शुरू हुआ, इसे झेलना मुश्किल हो गया. रोमांटिक सीरियल्स चलते बहुत हैं और दर्शक उसको पसंद भी करते हैं लेकिन यहां साल भर ईशानी और रणवीर यही तय नहीं कर पाए कि वे एक दूसरे से नफरत करते हैं या आशिकी. इतना डेली सोप का टॉर्चर कोई रियल लाइफ में नहीं झेल सकता फिर टीवी पर क्यों झेलें.

Meri Aashiqui Tum Se Hi
मेरी आशिकी तुम से ही का एक सीन

टीवी पर इन दिनों भूतिया सीरियल की भी अच्छी शुरुआत हुई है. लेकिन कुछ टाइम के बाद उसमें भी बकवास के सिवा कुछ और नहीं होता दिखाने को. बात करतें हैं टीवी सीरियल क़यामत की रात की. इसमें एक तांत्रिक है जिसके सभी अंग कटे हुए हैं. उसका एक टारगेट है हवेली की उस औरत को वश में करना जो हीरोइन है. तांत्रिक का हाथ सेटेलाइट की तरह काम करता है जो पूरे घर में घूमता रहता है. जिसको कोई नहीं देख पाता सिर्फ हीरोइन ही देखती है. घर में फंक्शन हैं सब डांस कर रहे हैं हाथ आकर किसी के भी गले को दबा देता है लेकिन कोई देख नहीं पाता सिवाए…. हिरोइन के! हाथ कोई अद्रश्य भी नहीं हैं. लाख कोशिशों के बावजूद भी ये सीरियल दर्शकों को सिर्फ बोर ही कर रहा है. मेरे हिसाब से यह सीरियल बकवास सीरियल्स की लिस्ट में शामिल होने का पक्का हकदार है.

और यह सीरियल ये रिश्ता क्या कहलाता है ने तो जैसे कसम खा ली है कि अगली शताब्दी तक भी टिके रहेंगे. सात, आठ साल से चले आ रहे सीरियल में अब तो अक्षरा नैतिक के बच्चे भी बड़े हो गए और उनकी भी शादी हो गई. इस सीरियल में दर्शकों को बाँधे रखने के लिए जब कुछ नहीं मिलता तो किसी न किसी की शादी करवा देतें हैं. वैसे इस सीरियल के चलने के पीछे भी शादी का सबसे बड़ा हाथ है. घर में बैठी औरतों को आईडिया मिल जाता है कि हल्दी, मेहंदी, संगीत में क्या पहनना हैं.

सीरियल शक्ति अस्तित्व के एहसास की  बात करें तो सीरियल जब शुरु हुआ था तो दर्शको के मुंह पर इसकी पब्लिसिटी बहुत देखी गई थी कि सीरियल में किन्नर बहु की कहानी है. बता दें करीब 500 से ज्यादा एपिसोड प्रसारित हो जाने के बाद सीरियल अब ठण्डे बस्ते में चला गया है. कुछ तो रियलिटी दिखाओ. भला किस घर में औरतें रात को भी पूरे जेवर पहन के सोती हैं.

Shakti

वही बात यदि कभी जीटीवी के सबसे पॉपुलर शो रहे कुमकुम भाग्य की करें तो ये शो इतना फेमस हुआ था कि मेकर्स ने इसी जॉनर का शो कुंडली भाग्य भी बना दिया शुरुआत में तो इस शो ने बहुत सुर्खिया बटोरी लेकिन अब कोई इस शो को देखना पसंद भी नहीं करता है.

 

Comments

- Advertisement -