HootSoot official

COVID-19: अगर इम्युनिटी है स्ट्रांग, तो आप भी स्ट्रांग हैं

101

- Advertisement -

Source: Deccan Herald

कोरोनावायरस दिन-ब-दिन फैलता ही जा रहा है. इसको मद्देनजर रखते हुए खुद के और अपनों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना और सभी तरह के संक्रमणों को इफेक्टिव तरीके से रोकना जरूरी है.

कोरोना वायरस की अभी तक कोई भी दवा नहीं बनी हैं. और ये पूरे विश्व में जहर की तरह फैलता जा रहा है. इससे भारत भी अछूता नहीं है, यहाँ पर भी इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दिन ब दिन बढ़ रही है. इतना ही नहीं इससे मरने वालों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है.

मौसम बेशक बदल रहा है, गर्म मौसम में साधारण वायरस ज्यादा देर नहीं फैल पाता है. लेकिन ऐसा कोरोना वायरस के साथ बिलकुल भी नहीं हैं. कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र इलाज अपने-अपने घरों में रहना, खुद को संक्रमित लोगों से दूर रखना, अपने को सैनिटाइज़ करना और इम्युनिटी को स्ट्रांग रखना है.

Source: NPR

कोरोना वायरस को देखते हुए इम्यूनिटी बूस्ट करना सबसे ज्यादा जरूरी है. उसके लिए हेल्दी भोजन करना, घर पर रह कर अपनी लाइफस्टाइल को बेहतर करना और पॉजिटिव रहना भी जरूरी है. तो आइए जानते हैं लॉकडाउन के दिनों में इम्यूनिटी बूस्ट कैसे करें?

इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए आपका फर्स्ट स्टेप और सबसे ज्यादा जरूरी है हाई डाइट यानी फूड्स और वेजिटेबल खाना. ये आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा असरदार होते हैं.

 

 1.नेचुरल डाइट

किसी भी बीमारी से लड़ने के लिए आपके शरीर को अंदर से मज़बूत होना ज़रूरी है. और ये मज़बूती आपको अपनी हेल्दी डाइट से ही मिलेगी. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आपको इंटरनली मज़बूत होना पड़ेगा. नेचुरल डाइट इम्यूनिटी बूस्ट करने में आपकी मदद करेगी. खट्टे फल शरीर के व्हाइट ब्लड सेल्स को बढ़ाता हैं. व्हाइट ब्लड सेल्स सामान्य संक्रमणों और बीमारियों से बचाने में आपकी मदद करता है. विटामिन सी का सेवन बढ़ाने के लिए रोजाना खट्टे फल जैसे संतरे और अंगूर का सेवन करें. यह नेचुरल तरीका आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करेगा.

Source: Readers Digest

वहीं हरे रंग की सब्जी में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई और बहुत सारे फाइबर होते हैं. यह एंटीऑक्सिडेंट यौगिकों में भी समृद्ध होती है. ये सभी तत्त्व ब्रोकोली में पाए जाते है. अगर आप भी नैचुरल तरीके से इम्यूनिटी पावर बढ़ाना चाहते हैं तो रोजाना ब्रोकली का सेवन करें.

लहसुन को भी इम्युनिटी बूस्ट करने के लिए उपयोग किया जाता है. एक्सपर्ट्स का मानना है कि कोरोना वायरस से छोटे बच्चों, 60 साल से ऊपर के बुज़ुर्ग, प्रेग्नेंट महिलाओं और ह्रदय रोग के मरीजों को अपना ध्यान ज्यादा देने की जरुरत है. लहसुन ब्लड प्रेशर को प्रबंधित करने और धमनियों को सख्त होने से रोकने में मदद कर सकती है. लहसुन को पहले ही फ्लू और इंफेक्शन से लड़ने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है. आप भी लहसुन का सेवन कर नैचुरल तरीके से इम्यून सिस्टम को बेहतर कर सकते हैं. अपने खाने में अदरक को भी शामिल करें. क्यूंकि अदरक में पाया जाने वाला एक यौगिक खांसी, गले में खराश और सूजन वाली बीमारियों से लड़ने में प्रभावी माना जाता है. अदरक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और स्थिर करने में भी मदद करता है. इसके साथ ही हल्दी एंटीऑक्सिडेंट माना जाता है. इसके उपयोग से हृदय रोग, कैंसर और अल्जाइमर रोग को रोकने में भी मदद मिलती है.

इसके साथ ही आहार में एंटीऑक्सिडेंट की पर्याप्त मात्रा होनी चाहिए. एंटीऑक्सिडेंट बीमार कोशिकाओं को दुरुस्त करते हैं. जैसे. बीटा केरोटिन, सेलेनियम, विटामिन-ए, विटामिन-बी2 व बी6, विटामिन-सी, विटामिन-ई, विटामिन-डी रोगप्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी हैं. इन तत्त्वों की भरपाई के लिए गाजर, पालक, चुकंदर, टमाटर, खुबानी, जौ, भूरे चावल, शकरकंद, संतरा, पपीता, बादाम, दूध, दही, मशरूम, लौकी के बीज, तिल आदि उपयोगी हैं. हरी सब्जियों-फलों को विशेष रूप से भोजन में शामिल करें.

Source: Daily Mail

2. लाइफस्टाइल में ये छोटे परिवर्तन

कमज़ोर इम्युनिटी सिस्टम के कई कारण हो सकते हैं. कई बार नशा करने की गलत आदतों के चलते आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है. फिर चाहे आप कितनी भी नैचुरल डाइट लें ले, ये आदत आपके इम्युनिटी सिस्टम को स्ट्रोंग नहीं होने देगी. अपने इम्यून पावर को बढ़ाने के लिए आपको नेचुरल डाइट के साथ एक हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाना भी जरूरी है. जैसे नशे से दूर रहने के साथ ही साथ डेली एक्सरसाइज करना और हाईजीन का ख्याल रखना. किसी भी प्रकार का नशा वीक इम्युनिटी की निशानी होती है तो नशे से दूर रहें. इसके साथ ही आप डेली एक्सरसाइज करें. जिसमें योग, स्ट्रेचिंग और कार्डियो बेस्ड एक्सरसाइज को प्राथमिकता दें. एक्सरसाइज से मतलब ये नहीं के आप अपने घरों से बाहर निकलकर पार्क में चलें जाए. नहीं… घर पर ही रह कर आप हल्की-फुलकी एक्सरसाइज से खुद को इन्टर्नली भी मजबूत कर सकते हैं. अगर आपको एक्सरसाइज की बिलकुल भी आदत नहीं हैं तो आप छोटे-छोटे स्टेप्स से आगे बढ़े यानी बॉडी स्ट्रेचिंग और बेसिक योग स्टेप घर पर ही करें. इसके साथ ही हृद्य और मधुमेह रोगी जरूर हल्की-फुलकी एक्सरसाइज करें. योग और वाक को अपनी लाइफस्टाइल में शामिल करें.

एक्सरसाइज के बाद आप ग्रीन-टी और ब्लैक-टी ले सकते हैं. ये दोनों ही इम्यून सिस्टम के लिए फायदेमंद होती हैं लेकिन एक दिन में इनके एक से दो कप ही पिएं. ज्यादा मात्रा में इसके सेवन से नुकसान हो सकता है. ओट्स में पर्याप्त मात्रा में फाइबर्स पाए जाते हैं. साथ ही इसमें एंटी-माइक्रोबियल गुण भी होता है. हर रोज ओट्स का सेवन करने से इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है. विटामिन डी भी हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. इससे कई रोगों से लड़ने की ताकत मिलती है. साथ ही हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए और दिल संबंधी बीमारियों को दूर रखने के लिए भी विटामिन-डी लेना बहुत जरूरी है. इसके लिए सुबह की धूप ले सकते हैं. इसके लिए अपने घरों की छतों का इस्तेमाल करें. घर से बाहर न निकलें.

3.पॉजिटिव सोच से जुड़ी है स्ट्रोंग इम्युनिटी पॉवर

सबकी नार्मल लाइफ चल रही थी, हम सभी अपने टाइम से उठ रहें थे, पार्क टहलने जा रहें थे, ऑफिस जा रहें थे, पार्टी कर रहें थे, अपने प्रियजनों से मिल रहें थे, गली-नुक्कड़ पर बच्चें खेल रहें थे, सभी अपने-अपने डेली के कामों में व्यस्त थे. और अचानक से एक वायरस ने हमारी अच्छी-खासी लाइफ में उथल-पुथल मचा दी. हमारे चारों तरफ इस वायरस से कोहराम मच गया. देखते ही देखते आलम ऐसा हो गया कि अपनी और अपनों की लाइफ बचाने के लिए हमें अपने घरों में बंद होना पड़ा. सभी लोगों से दूरी बनानी पड़ी क्यूंकि हमें अपने और अपनों को सुरक्षित रखना हैं. हर एक बाहरी चीज से खतरा सा लगने लगा. ऐसी स्थिति में दिमाग और सोच पर संयम रखना बहुत ही मुश्किल है. लेकिन नामुमकिन नहीं…..!

Source: Wired

आज पूरे विश्व में लाखों की संख्या में लोग संक्रमित हो रहें हैं, हजारों लोग मर रहें हैं. ऐसे में पॉजिटिव होकर अपना और अपनों का ख्याल रखना कठिन हैं. लेकिन ये आपको करना ही होगा. आपको इस संक्रमण से लड़ने के लिए तनावमुक्त होकर अपने बॉडी और माइंड को हल्का रखना हैं. इससे आपकी इंटरनल इम्युनिटी स्ट्रोंग होगी.

अपनी बॉडी और माइंड को पॉजिटिव और लाइट बनाने के लिए आप सबसे पहले खूब सारा पानी पिए. पानी आपके शरीर की सारी बीमारी और निगेटिव विचारों को दूर कर शरीर में स्फूर्ति लाता है. इसके साथ ही भरपूर नींद लें. नींद में कमी आपकी वीक इम्युनिटी को दर्शाता हैं जिससे आप तनाव का शिकार हो सकते हैं. और बीमार भी पड़ सकते हैं. सोने से पहले आप कुछ अच्छा पढ़ कर या फिर सुनकर सोए इससे आपके अंदर पॉजिटिव ऊर्जा रहेगी और सुबह आप फ्रेश फील करेंगे.

व्यायाम के साथ ही मैडिटेशन भी करें. अपने दिमाग को संतुलित और लाइट रखने के लिए मैडिटेशन सबसे असरदार उपाय है. आप आर्ट ऑफ़ लिविंग की सोहम् प्रक्रिया या फिर ॐ ध्वनि के साथ भी मैडिटेशन कर सकते हैं. अगर आपको इसकी आदत नहीं हैं तो आप सिर्फ ॐ का उचारण करने के बाद शवासन कर सकते हैं. इससे भी आपके माइंड और बॉडी को रिलैक्स मससूस होगा.

Source: ZME Science

लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन…. लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन कहता हैं जैसा सोचोगे वैसा ही होगा! हमारे मुँह से बोला गया एक-एक शब्द इस यूनिवर्स यानी ब्रह्मांड में तरंगों की तरह जाकर वापिस हमारे पास आता है. इसका मतलब हैं जैसा आप सोचेंगे-बोलेंगे वैसे ही आपके साथ होगा. तो सबसे पहले हमें पॉजिटिव ही सोचना हैं.

हमें अपनी और अपनों की सुरक्षा करनी हैं. सरकार और हेल्थ एक्सपर्ट के सभी नियमों का पालन करना हैं. इस बीमारी से हमारा देश संक्रमण मुक्त होगा. इस सोच के साथ आपको सिर्फ अच्छा ही सोचना हैं. इसके साथ ही अपने हाथों को ज्यादा से ज्यादा बार धोएं या सैनिटाइज़र का उपयोग करें. शरीर को अधिक ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए गहरी सांस लेने या प्राणायाम का प्रयास करें. ये वक़्त आपकी समझदारी का है, अपनी पसंद की सारी गतिविधियां करें ये आपके तनाव को दूर कर इम्युनिटी बूस्ट करेगी.

याद रखें रोकथाम इलाज से बेहतर है…. हम सभी ने इसे कई बार सुना है. तो महामारी की इस अवधि के दौरान अपनी समझदारी दिखाए. खुद को और चीजों को बार-बार सैनिटाइज़ करें और सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखें.

 

Comments

- Advertisement -