HootSoot official

ग्रीन टी के बाद अब आपकी जुबान पर चढ़ेगा ब्लू टी का स्वाद, जानिए इसके फायदे

जानिए क्या है ब्लू-टी के फायदे और आप कैसे बना सकते है इस स्वादिष्ट पेय को

132

Blue Tea

खुशी सबसे ज़रूरी चीज़ है. और उसके लिए सबसे पहला स्टेप हेल्दी और फिट रहना है. हेल्थ को लेकर आजकल हम बहुत ही कॉन्शियस हो गए है. मॉर्निंग वॉक, जिम, रनिंग, योगा इसके अलावा हेल्दी डाइट फ़ूड और हेल्दी ड्रिंक्स का ज्यादातर प्रयोग करने लगे हैं. वैसे हेल्थ के साथ कोई कोम्प्रोमाईज़ नहीं करना चाहिए. सुबह से लेकर रात तक हेल्दी लाइफ जीने के लिए जो भी फायदेमंद हो, वो हर संभव प्रयास करते रहना चाहिए.

अक्सर लोग अपने दिन की शुरुआत करते हैं एक कप चाय से! जिससे हम सारा दिन खुद को फिट महसूस करते है. तो चाय लवर्स अभी तक आपको चाय के कई प्रकार जैसे- ग्रीन टी, ब्लैक टी के ही बारे में पता होगा. आजकल लोग हेल्थ को ध्यान में रखकर ग्रीन टी का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करने लगे हैं. चाय की इस दुनिया में अब एक और फ्लेवर जुड़ गया है. वो है ब्लू टी! …..

चौंकने वाली बात नहीं हैं. इसको ब्लू टी यानी नीली चाय बोलते हैं. ये सच में नीले रंग की होती है. ये दिखने में जितनी खूबसूरत दिखाई देती है, हेल्थ के हिसाब से भी ये काफी लाभदायक है. तो आइए जानते हैं ब्लू टी के फायदे-

Blue Tea

ब्यूटी बेनिफिट्स

ब्लू टी में मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स बालों और त्वचा के लिए लाभकारी होते हैं. खूबसूरती को और निखारने के लिए नीली चाय एक बढ़िया विकल्प है. इससे बाल घने और चमकदार होते हैं. ये चेहरे के दाग, धब्बे और झाइयों को मिटाकर रंगत निखारने में भी मदद करता है.

डिटॉक्स टी

ब्लू टी में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं. इसमें मौजूद बायो कंपाउड शरीर से टॉक्सिन्स निकालने में मदद करते हैं. ब्लू टी आपके शरीर से अवांछित तत्वों को बाहर निकालकर बॉडी को डिटॉक्स करती है और शरीर की आंतरिक सफाई करती है.

एनर्जी बूस्टर

ब्लू टी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स और इसकी मनोरम महक शरीर को दिनभर ऊर्जावान बनाए रखने के लिए काफी होते हैं. रोजाना एक कप ब्लू टी पीने से आपको बहुत ज्यादा थकान महसूस नहीं होती.  यह एक बेहतरीन इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करती है और इम्यूनिटी को बढ़ाकर बीमारियों से आपकी रक्षा करती है.

Butterfly Teaएंटी-डायबिटीक

एक कप ब्लू टी का सेवन करने से आपके ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है जिससे डायबिटीज की समस्या पैदा नहीं होती है. रोजाना ब्लू टी का सेवन करने से जिनको एक्स्ट्रा भूख लगती है उस पर भी कंट्रोल रहता है.

एंग्जायटी और डिप्रेशन से रखता है दूर

ब्लू टी में मौजूद अमीनो एसिड सेहत के लिए बेहद लाभकारी होते हैं. ये डिप्रेशन और एंग्जायटी को कम करते हैं और तनाव को दूर करने में मदद करते हैं.

कैंसर का खतरा करता है कम

ब्लू टी एंटीऑक्सिडेंट का एक समृद्ध स्रोत हैं. एंटीऑक्सिडेंट शरीर की कोशिकाओं के गहरे नुकसान को कम करने के लिए जाना जाता है. कोशिकाओं को जितना कम नुकसान होगा, सभी प्रकार के कैंसर का खतरा उतना ही कम होगा.

Blue Tea

यहां से हुई ‘ब्लू टी’ की शुरुआत

बटरफ्लाई ब्लू टी क्लिटोरिया टर्नेटिया प्लांट से बनाई जाती है. इसकी शुरुआत दक्षिण पूर्व एशिया में हुई और आमतौर पर थाईलैंड और ताइवान जैसे देशों में इसका ज्यादा मज़ा लिया जाता है. यहां पर इस चाय को शहद और नींबू के साथ मिलाया जाता है. पहले इस टी को ‘नम डॉक एंचन’  भी कहा जाता है और इसे सबसे पहले यहां के स्पा में परोसा गया. ये एक तरह की हर्बल टी है.

ऐसे बनाएं ब्लू टी

आप ये सोच रहे होंगे कि आखिर ये चाय नीली कैसे होती है?  तो हम आपको बता दें कि ये चाय अपराजिता के खूबसूरत नीले फूल यानी Butterfly-Pea Flowers को उबालकर बनाई जाती है. इसलिए इसका रंग नीला होता है. इसे बटरफ्लाई टी भी कहा जाता है. इसे बनाना बहुत ही आसान हैं और इसके फायदे भी कमाल के हैं.

विधि  

इस चाय को बनाने के लिए आपको चाहिए-

*अपराजिता के नीले फूल यानी Butterfly-Pea Flowers

*पानी

*नमक

*शक्कर या शहद

*नींबू

– सबसे पहले पानी उबाल लें और उसमें अपराजिता के फूल डालें. जब इसका रंग नीला हो जाए, तो इसमें नमक स्वाद के अनुसार और शक्कर या शहद डालें और कुछ बूंद नींबू की डालकर छान लें. अब यह पीने के लिए तैयार है. आप इसको ठंडा करके भी पी सकते हैं.

Comments

- Advertisement -