HootSoot official

ग्रूमिंग: सेल्फ डिसिप्लिन के साथ चढ़े सफलता की सीढ़ियां…

किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए सेल्फ डिसिप्लिन बेहद ज़रूरी है

168

Man

सभी को अपनी लाइफ में कुछ न कुछ हासिल करने की चाहत होती हैं. इस चाहत को पूरा करने के लिए आप हर संभव प्रयास और जी तोड़ मेहनत करते हैं. लेकिन मेहनत के हिसाब से हम में से कुछ ही को सफलता मिलती है. क्यों? क्योंकि आपके व्यक्तित्व में पड़ा एक छोटा सा अंतर आपके परिणामों में बहुत फर्क डालता हैं यानी कि सेल्फ डिसिप्लिन!

सेल्फ डिसिप्लिन एक ऐसी चीज है, जिसके ज़रिए आप अपनी लाइफ में बड़ी से बड़ी परेशानी और दिक्कतों को दूर कर ख़ुशी और सफलता दोनों पा सकते हैं. ये एक ऐसा गुण है जिसकी जरुरत सबको अपनी लाइफ में समय-समय पर पड़ती है. अगर आपको अपनी लाइफ में सफलता प्राप्त करनी है या अपने लक्ष्य को पाना हैं, तो सेल्फ डिसिप्लिन के साथ किया हर काम आपको सक्सेस जरूर दिलाएगा. जिस तरह से खेल को जीतने के लिए कई नियम बनाए जाते हैं, वैसे ही खुद के लिए यानी सेल्फ डिसिप्लिन के लिए आप नियम तैयार कर सकते हैं. जिसको फॉलो कर आप अपनी लाइफ में सक्सेस और खुशी पा सकते हैं.

टाइम मैनेजमेंट है ज़रुरी  

सक्सेस के लिए जितना जरुरी आपकी मेहनत है उतना ही महत्व समय का भी है. हर इंसान के जीवन का हर एक दिन बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. सेल्फ डिसिप्लिन के लिए सबसे जरुरी टाइम मैनेजमेंट है. जो काम जिस दिन के लिए बना है उसे तुरंत कर लेना चाहिए, क्योंकि बीता हुआ समय कभी वापस नहीं आता. अगर आप हर काम को टाइम पर करने लगेंगे तो यह आपके अंदर एक सेल्फ डिसिप्लिन का हिस्सा बन जाएगा. सक्सेसफुल होने के लिए समय के अनुकूल रहने की आदत डालनी होगी.

Time Management

पॉजिटिव रहें

सेल्फ डिसिप्लिन में रहने के लिए आपको पॉजिटिव रहना भी बहुत जरुरी है. अगर आप पॉजिटिव रहते है तो आपके साथ ज्यादातर लोग रहेंगे. पॉजिटिव सोच के साथ आप कैसी भी समस्या का आसानी से समाधान खोज सकते हैं. कोई भी चीज आपको असंभव नहीं लगेगी. इसलिए अपनी लाइफ में हर चीज के लिए सकारात्मक सोच बनाए. इससे आप अपने बनाए नियम को ठीक तरह से प्रयोग कर पाएंगे.

इच्छाओं को बढ़ावा दें

कहते हैं न अगर एक बार आपने अपना कम्फर्ट ज़ोन पा लिया तो आप उसके आदि हो जाते हैं और आगे प्रयास करना कम कर देते हैं. इच्छाओं को सीमित मत होने दें. इससे आप एक चीज को लेकर स्थिर रह जाएंगे. अपनी जरूरतें बढ़ाते रहें क्योंकि अगर आपने अपनी सोच, अपनी जरूरतें स्थिर कर ली तो आप शायद सेल्फ डिसिप्लिन करना छोड़ देंगे. और जहां हैं उससे आगे बढ़ने का सोचें नहीं. इसलिए कभी कम्फर्ट ज़ोन तक सीमित न रहें इच्छाओं को बढ़ावा दें.

काम को पूरा करें

एक सेल्फ डिसिप्लिन्ड व्यक्ति में काम को पूरा करने वाली क्वालिटी होनी चाहिए. तभी वह अपनी लाइफ में आगे बढ़ पाता है. यही चीज आपकी सोच को भी बढ़ाती है और सकारात्मक रखने में मदद करती है. अगर आप अपनी लाइफ डिसिप्लिन्ड होकर चलाना चाहते है तो ध्यान रखे कि आप जो बोले वो करे तभी आप अपनी लाइफ में सक्सेस पाएंगे.

Complete Tasks

नए चैलेंज का करें स्वागत

जब आप डिसिप्लिन्ड होकर चलते हैं तो आपके सामने बहुत सारे चैलेंज आते हैं. बहुत से लोग आपसे प्रेरणा लेते हैं तो वहीं बहुत लोग आपसे जलते भी हैं. इससे आपकी लाइफ में चैलेंजेस बढ़ जाते हैं. चैलेंज स्वीकार करें! और इनका पूरी तरीके से सामना करें. अगर आज आपने इससे पीछा छुड़ा लिया तो कल कोई और चैलेंज सामने आएगा और आपको फिर से परेशान करेगा. तो इसका सबसे अच्छा तरीका है चैलेंज को स्वीकार कीजिए और उनके समाधान ढूंढिए.

धैर्य बनाए रखना है जरुरी

धैर्य होने का गुण बेहद जरुरी है. इसीलिए आप अपनी लाइफ में धैर्य बना कर रखे. यदि आप अपनी लाइफ में धैर्य बना कर रखते है और किसी भी काम में जल्दबाज़ी नहीं करते तो यह आपकी सेल्फ डिसिप्लिन को दर्शाता है इसीलिए अपने जीवन में डिसिप्लिन बनाने के लिए धैर्य बनाए रखे यह आपके लिए बहुत जरुरी है.

फोकस होना जरुरी

यदि अपने जीवन में किसी भी तरह के कार्य को पूर्ण करने के लिए एकाग्र रहते है तो यह आपके लिए अनुशासन बनाता है इसीलिए आप ध्यान में रहे की यदि आप किसी भी तरह के काम कर रहे है तो अपने मन को एकाग्र करके रखे तभी आप अपने जीवन में डिसिप्लिन बना सकते है.

Focus

सेल्फ ग्रोथ पर करें फोकस

जब कोई इंसान डिसिप्लिन के साथ किसी काम को फॉलो करता है तो वैसे भी उसका विकास उसकी ग्रोथ खुद ब खुद बढ़ने लगती है. लेकिन इसके साथ-साथ आपको अपनी ग्रोथ पर ध्यान रखना होता है कि मेरी ग्रोथ उस हिसाब से हो रही है या नहीं जिस हिसाब से मेहनत कर रहा हूं. इसीलिए ये एनालाइज करना जरुरी है कि वाकई मेरी मेहनत का फल मुझे मिल रहा है या नहीं! उसके हिसाब से आप अपने को डिसिप्लिन्ड करें, अपने नियमों का सख्ती से पालन करें.

प्लानिंग करें

किसी भी सक्सेस के पीछे प्लानिंग का विशेष महत्व होता है. यदि आप अपने जीवन में अनुशासन बनाना चाहते है तो इसके लिए सबसे जरुरी है कि आप किसी भी तरह के काम को कर रहें हो तो उस काम को करने के लिए प्रॉपर प्लानिंग करें. क्योकि आप अपने किसी काम को प्लानिंग करके करते है तो पहले तो वह काम पूरे अनुशासन के साथ होता है और इसके अलावा उसमें सफलता मिलने के ज्यादा चांस बन जाते हैं.

सेल्फ डिसिप्लिन से सिर्फ सक्सेसफुल भविष्य ही नहीं बल्कि ख़ुशी और अच्छा स्वास्थ भी जुड़ा है. इन ख़ास टिप्स को अपनी लाइफ में फॉलो करके आप अगर एक अच्छे परिवर्तन की ओर जा रहें है और ये परिवर्तन आपको सफलता दिला रहा है तो इसे करने में क्या हर्ज हैं!

Comments

- Advertisement -